Browsing: रोचक

दादा साहब फाल्के का असली नाम धुंडीराज गोविंद फाल्के था। उनका जन्म 30 अप्रैल 1870  को महाराष्ट्र के नासिक में एक मराठी परिवार में हुआ था उनके पिता संस्कृत के एक महान विद्वान थे। दादा साहब ने अपनी शिक्षा महाराष्ट्र के भवन बड़ौदा में पूरी की वहां उन्होंने मूर्तिकला, इंजीनियरिंग, चित्रकला पेंटिंग और फोटोग्राफी की शिक्षा भी प्राप्त की।

जिस हीरे को भारत ने नहीं पहचाना उस हीरे को पहचान लिया अमेरिका ने और बना दिया उसे एक साधारण से असाधारण इंसान”

आपको बता दें कि या होनहार बालक कोई और नहीं बल्कि डॉ हरगोविंद खुराना थे । भारत अपने इस नगीने को समय रहते पहचान नहीं पाया मगर पश्चिम देश  ने इसकी प्रतिभा को पहचान लिया